Oct 21, 2017 - Sat
Chhapra, India
30°C
Wind 3 m/s, SE
Humidity 65%
Pressure 758.93 mmHg

21 Oct 2017      

Home देश

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र महासभा में संबोधित करते हुए भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान एक बार फिर प्रहार किया. उन्होंने कहा कि हम गरीबी से लड़ रहे हैं, पर पाकिस्तान हमसे लड़ रहा है. भारत ने पाकिस्तान द्वारा आतंकवादी कोशि‍शों के बावजूद अपने विकास की रफ्तार कम होने नहीं दी. जहां भारत ने एम्स, आईआईटी, आईआईएम बनाए वहीं पाकिस्तान ने अपने यहां हिजबुल मुजाहिद्दीन, लश्कर ऐ तैयबा जैसे आतंकवादी संगठन. भारत ने डॉक्टर, इंजीनियर पैदा किए और पाकिस्तान ने दहशतगर्द पैदा किए, जेहादी पैदा किए. सिर्फ भारत नहीं अफ़ग़ानिस्तान और बांग्लादेश भी पाकिस्तान की वजह से आतंकवाद से जूझ रहे हैं.

सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को जवाब दिया कि जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने भारत पर उनके देश के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगाया था, तब सुनने वाले बोल रहे थे कि देखो कौन बोल रहा है. जो मुल्क खुद आतंक को पनाह देता है वही हमें मानवधिकार की पाठ पढ़ा रहा था.

सुषमा ने कहा कि मोहम्मद अली जिन्नाह ने क्या कहा क्या नहीं यह तो इतिहास की बात है पर पीएम मोदी ने आज के दौर में शांति का संदेश दिया. मोदी ने दोस्ती का हाथ बढ़ाया, लेकिन शांति किसने बदरंग की, यह दुनिया जानती है. कॉम्प्रे‍हेंसिव बाइलेट्रल डॉयलॉग में बाइलेट्रल शब्द जानबूझकर डाला गया. कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा है.किसी भी तीसरे को इसमें दखल नहीं देने दिया जाएगा.

 

(Visited 49 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!