Feb 21, 2018 - Wed
Chhapra, India
23°C
Wind 3 m/s, WSW
Humidity 60%
Pressure 756.81 mmHg

21 Feb 2018      

Home देश

नई दिल्ली: भारतीय रेल के आधुनिकीकरण और विस्तारीकरण योजनाओं के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 1,48,528 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है. उन्होंने कहा कि रेलवे का जोर सुरक्षा, रख-रखाव और रेलवे ट्रैक पर होगा. इतना ही नहीं, कोहरा जैसी समस्या से निबटने के लिए तकनीक और सुरक्षा उपकरणों पर खर्च बढ़ाया जायेगा. इस राशि का इस्तेमाल रेलवे नेटवर्क और रेलवे की परिवहन क्षमता बढ़ाने के लिए किया जायेगा.

वित्त मंत्री ने कहा है कि कुल पूंजी में से एक बड़ा हिस्सा रेलवे की क्षमता विस्तार पर खर्च के लिए सुरक्षित रहेगा. वित्त मंत्री ने कहा कि ऐसे सभी रेलवे स्टेशन, जहां 25,000 से अधिक लोग हर दिन आवागमन करते हैं, वहां स्वचालित सीढ़ियां लगायी जायेंगी. सभी रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों में वाई-फाई सेवा शुरू की जायेगी और सीसीटीवी लगाये जायेंगे.

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में का कि 600 बड़े रेलवे स्टेशनों को फिर से विकसित किया जायेगा. मुंबई ट्रांसपोर्ट सिस्टम का विस्तार किया जा रहा है. बेंगलुरु में 160 किलोमीटर का उपगनरीय रेलवे नेटवर्क स्थापित करने की योजना है.

अरुण जेटली ने कहा कि सितंबर, 2017 में भारत की पहली बुलेट ट्रेन सेवा की आधारशिला रखी गयी थी. गुजरात के बड़ोदरा में एक संस्थान की स्थापना की जा रही है, जिसमें हाई स्पीड रेलवे प्रोजेक्ट के अनुरूप लोग ट्रेंड किये जायेंगे. उन्होंने कहा कि 12,000 वैगन, 5160 कोच और 700 लोकोमोटिव्स खरीदे जायेंगे. वित्त मंत्री ने कहा कि रेलवे ने कई महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं.

(Visited 233 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!