Oct 19, 2017 - Thu
Chhapra, India
33°C
Wind 3 m/s, E
Humidity 63%
Pressure 753.06 mmHg

19 Oct 2017      

Home आपका शहर

छपरा(सुरभित दत्त): हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला, एशिया का सबसे बड़ा मेला है. लगभग 5 से 6 किलोमीटर के क्षेत्र में मेला लगता है. इस मेले को लेकर एक बात मशहूर है कि यहाँ सुई से लेकर हाथी तक बिकता है.

वैसे तो हाथियों की खरीदारी पर सरकार ने रोक लगा रखी है. बावजूद इसके मेला में हाथी आकर्षण का केंद्र होते है. मेला में पशुओं की बिक्री होती है. जिनमे खास तौर पर घोड़ा, बैल, भैस, कुत्ते आदि शामिल है. मेला में पक्षी मेला भी लगता है. हरिहर क्षेत्र मेले का एक बड़ा आकर्षण मीना बाजार भी होता है. यहां देश के विभिन्न स्थानों से व्यापारी अपने सामनों के साथ पहुंचते है.

पौराणिक मान्यता
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सोनपुर मेला उसी स्थान पर लगता है जहां कभी गज और ग्राह में भयंकर युद्ध हुआ था. ऐसी मान्यता है कि गज को बचाने के लिए विष्णु स्वयं यहां आए थे. वही सोनपुर में हरिहरनाथ मंदिर दुनिया का इकलौता ऐसा मंदिर है जहां हरि (विष्णु) और हर (शिव) की एकीकृत मूर्ति है. इसके मंदिर के बारे में कहा जाता है कि कभी ब्रह्मा ने इसकी स्थापना की थी.

एक महीने चलता है मेला

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर गंगा स्नान के साथ शुरू होने वाला सोनपुर मेला एक महीने चलता है. गंगा स्नान के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते है. पहले आधिकारिक तौर पर मेला सिर्फ 15 दिनों का होता था. लेकिन इस बार 32 दिनों तक चलेगा.

बड़ी संख्या में पहुंचते है विदेशी सैलानी

सोनपुर मेला की प्रसिद्धि इतनी है कि विदेशों से सैलानी इस मेले को देखने बड़ी संख्या में पहुंचते है. मेले में सैलानियों के ठहरने के लिए खास इंतजाम किये जाते है. snp2 मेले में आने वाले विदेशी मेहमानों के रहने और पर्यटकों के लिए अन्य जरुरी तैयारी की जा रही है. 

12 नवम्बर से 13 दिसंबर तक चलेगा मेला
सोनपुर मेला को लेकर तैयारियां अब अंतिम चरण में है. इस बार मेला का उद्घाटन 12 नवम्बर को होगा. सूबे की पर्यटन मंत्री अनीता देवी मेले का उद्घाटन करेंगी. उद्घाटन सत्र में मशहूर पार्श्व गायिका अलका याग्निक प्रस्तुति देंगी.  मेले का समापन 13 दिसम्बर को होगा. सोनपुर मेला को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का उत्कृष्ट मेला बनाने के लिए तैयारियां जोरो पर है.  

सांस्कृतिक कार्यक्रम की होगी प्रस्तुति 

कला-संस्कृति एवं युवा विभाग बिहार एवं सूचना जनसम्पर्क विभाग बिहार के द्वारा प्रतिदिन मुख्य पंडाल में राष्ट्रीय, अंतराष्ट्रीय, स्थानीय कलाकारो के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमो की प्रस्तुति होगी. मेले में एडवेंचर स्पोर्ट्स की व्यवस्था भी की गयी है.

कैसे पहुंचे सोनपुर मेला
सड़क मार्ग:
राजधानी पटना से 25 किलोमीटर
हाजीपुर से 3 किलोमीटर
जिला मुख्यालय छपरा से 50 किलोमीटर

हवाई मार्ग
नजदीकी एयरपोर्ट, पटना

ट्रेन
हाजीपुर स्टेशन से 3 किलोमीटर
सोनपुर स्टेशन से 1 किलोमीटर
पटना जंक्शन से लगभग 25 किलोमीटर

(Visited 111 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!